News & Circulars
सुविवि- आर्किटेक्चर कॉलेज के नवीन भवन का निर्माण कार्य शुरू
Uploaded On : 22 March, 2021
सुविवि- कल मनाया जाएगा शहीदी दिवस
Uploaded On : 22 March, 2021
सुविवि- शिक्षा संकाय ने मनाया वानिकी दिवस
Uploaded On : 22 March, 2021
शामे गज़ल और सम्मान समारोह का आयोजन 13 मार्च, 2021 को
Uploaded On : 11 March, 2021
सुविवि महिला दिवस पर करेगा प्रोफेसर्स का अभिनन्दन, महिला कलाकारों द्वारा निर्मित चित्रों की लगेगी प्रदर्शनी
Uploaded On : 08 March, 2021
जीवन में सार्थक रूपांतरण करने वाला पाठ्यक्रम है आनंदम् - कुलपति
Uploaded On : 19 February, 2021
विश्वस्तरीय विश्वविद्यालय की स्थापना के साथ उच्च शिक्षा में होगा नवसृजन
Uploaded On : 06 February, 2021
प्राचीन शिक्षा संस्कृति का होगा पुनः प्रादुर्भाव जिसने विश्व स्तर पर बनाई थी विश्वविद्यालयो की अलग पहचान
Uploaded On : 06 February, 2021
वैश्विक परिदृश्य के समक्ष सुविवि का सशक्त दृष्टिकोण
Uploaded On : 06 February, 2021
500 करोड़ की संभावित लागत से विश्व स्तरीय मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय का प्रस्तावित रोड़ मैप-2021
Uploaded On : 06 February, 2021

प्राचीन शिक्षा संस्कृति का होगा पुनः प्रादुर्भाव जिसने विश्व स्तर पर बनाई थी विश्वविद्यालयो की अलग पहचान

Uploaded On : 06 February, 2021

प्रो.सिंह ने कहा कि सुविवि की ख्याति उच्च शिक्षा के प्राचीन संस्थानों नालंदा और तक्षशिला के समान ही होगी ताकि दुनिया के विभिन्न हिस्सों के छात्र उच्च शिक्षा के लिए भारत के उदयपुर शहर को प्राथमिकता दें। इसमें आने वाली चुनौतियों को हल करने की दिशा में भी है काम करना होगा।गुणवत्तापरक उच्च शिक्षा ज्ञान की गतिशीलता,राष्ट्र के सामाजिक-आर्थिक विकास हेतु बहुत महत्त्वपूर्ण है। नवप्रवर्तक और भविष्योन्मुखी विश्वविद्यालय इसके पीछे की प्रेरक शक्तियां है। भारतीय उच्चतर शिक्षा प्रणाली ने समय के साथ अपनी वैश्विक प्रतिस्पर्धी श्रेष्ठता खो दी है।इसलिए भविष्य के विश्वविद्यालयों को राष्ट्र की वृद्धि और विकास के ऐसे केंद्रीय आधारस्तंभ बनना होगा जो न केवल बुद्धिमत्तापूर्ण लोगों को विकसित करें बल्कि प्रखर बौद्धिकता का भी विकास करें। हमारे विश्वविद्यालयों को सक्रिय शिक्षण और अनुसंधान स्थलों में परिवर्तित करना ही होगा, जो नवप्रवर्तन और नए विचारों के लिए लांच पैड की तरह काम कर सकें। उन्होंने शिक्षा क्षेत्र की आधारभूत भूमिका को भी रेखांकित करते हुए कहा कि, यदि भारत को उच्चतर वृद्धि दर हासिल करनी है और मानव विकास सूचकांक पर अपनी स्थिति बेहतर बनानी है, तो देश के शिक्षा क्षेत्र को बहुत सावधानी से पोषित करना होगा। हमें सिंहावलोकन करते हुए हमारे विश्वविद्यालयों के भविष्य पर विचार करना होगा जो हमें राष्ट्र निर्माण हेतु संस्थाओं के विकास में योगदान हेतु सक्षम और सशक्त बनाएगा।

Address
Mohanlal Sukhadia University
Udaipur 313001, Rajasthan, India
EPABX: 0294-2470918/ 2471035/ 2471969
Fax:+91-294-2471150
E-mail: registrar@mlsu.ac.in
GSTIN: 08AAAJM1548D1ZE
Privacy Policy | Disclaimer | Terms of Use | Nodal Officer : Dr. Avinash Panwar
Last Updated on : 16/04/21